Shri Vishnu Prabhakar

संस्कृत एवं संगीत दोनों के अध्येता एवं साधक श्री प्रभाकर यशस्वी लेखक हैं। इन्होंने संस्कृत साहित्य में स्थापित मूल्यों को जन-जन में उतारने का प्रयास किया है।

Continue Reading

Dr. Sudarshan Shrinivas Shandilya

डा. सुदर्शन श्रीनिवास शाण्डिल्य संस्कृत विद्या के पारम्परिक विद्वान् एवं अध्यापक हैं। गीता के ज्ञान का गम्भीर उपदेश देने के लिए इनकी ख्याति विशेष रूप से है। नव्य-न्याय एवं व्याकरण देनों आधापभूत विषयों की सिक्षा के कारण इनकी भाषा प्रांजल होती है।

Continue Reading

Dharmayan vol. 87

महावीर मन्दिर की धार्मिक, सांस्कृतिक एवं राष्ट्रीय चेतना की पत्रिका धर्मायण की अंक संख्या 87. प्रधान सम्पादक पं. भवनाथ झा, सह सम्पादक श्री सुरेशचन्द्र मिश्र

Continue Reading